News

News

एमबी चिकित्सालय में गृहमंत्री ने किया पीसीवी टीकाकरण का शुभारंभ

News

उदयपुर, 7 अप्रेल/विश्व स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर महाराणा भूपाल चिकित्सालय के सामुदायिक स्वास्थ्य विभाग के टीकाकरण केन्द्र में राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम के तहत न्यूमोकोकल कान्प्यूमेंट वैक्सीन का शुभारंभ शनिवार को गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया एवं आरएनटी महाविद्यालय के प्रधानाचार्य डॉ. डी.पी.सिंह के आतिथ्य में हुआ।

विभागाध्यक्ष रेखा भटनागर ने बताया कि पीसीवी का पहला टीका बेबी सुनीता पुत्री श्रीमती गुड्डी को बाल चिकित्सालय अधीक्षक डॉ. सुरेश गोयल द्वारा लगाया गया। उन्होंने बताया कि यह टीका शिशुआंे को न्यूमोकोकल बैक्टीरिया से होने वाले न्यूमोनिया व अन्य बीमारियों से सुरक्षा प्रदान करता है। इस मौके पर चिकित्सालय अधीक्षक डॉ. विनय जोशी, टीकाकरण कार्यक्रम प्रभारी डॉ. कीर्ति सिंह, डॉ. राहुल प्रकाश, डॉ. गोपाल बुनकर, डॉ. अंजलि माथुर आदि मौजूद थे।

 

किसान क्रेडिट कार्ड की तर्ज पर शीघ्र ही पशु क्रेडिट कार्ड मिलेंगे - राईका

News

पशुकल्याण बोर्ड अध्यक्ष ने ली राज्य स्तरीय समीक्षा बैठक

राज्य में किसान क्रेडिट कार्ड की तर्ज पर पशुपालकों को पशु क्रेडिट कार्ड प्रदान किये जाएंगे। इस हेतु गाइड लाइन तैयार की जा रही है। यह कहना है पशुपालक कल्याण बोर्ड अध्यक्ष गोरधन राईका का। वे गुरुवार को चेटक सर्कल स्थित पशुचिकित्सालय परिसर में आयोजित बोर्ड बैठक में यह बात कही।

राईका ने कहा कि पशुपालक और किसान एक दूसरे के पूरक हैं। किसानों को उनकी भूमि के आधार पर किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा सरकार की ओर से उपलब्ध करवाई जा रही है। उनके आग्रह पर माननीय मुख्यमंत्री महोदया ने पशुपालकों की सुविधा के लिए पशु क्रेडिट कार्ड योजना का घोषणा की है जिसकी गाइडलाइन तैयार की जा रही है। शीघ्र ही राज्य के लाखों पशुपालकों को इसका लाभ मिलना शुरु हो जाएगा।

बांसवाड़ा के घोटिया आम्बा के पुनरोद्धार एवं विकास कार्य कंे लिए 47.52 लाख

जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग की ओर से बांसवाड़ा स्थित जनजाति महत्व के ऐतिहासिक, सांस्कृतिक एवं धार्मिक स्थल घोटिया आम्बा के पुनरोद्धार एवं विकास कार्यों के लिए 47.52 लाख की स्वीकृति जारी की गई है।

विभाग के आयुक्त भवानी सिंह देथा ने बताया कि इन कार्यों में मंदिर के ऊपर के जीर्ण-शीर्ण हो चुके सामुदायिक भवन के स्थान पर नवीन सामुदायिक भवन व रसोई घर निर्माण के लिए 27.03 लाख तथा गोशाला व एक नवीन एसी थिएटर (मुक्त रंग-मंच) निर्माण के लिए 20.49 लाख की स्वीकृति दी गई है। इन कार्यों के लिए कार्यकारी एजेन्सी राजस्थान राज्य सड़क विकास एवं निर्माण निगम लिमिटेड को नियुक्त किया है।

कटारिया ने किया निःशुल्क मोबाइल 7 डी सिनेमा का उद्घाटन

News

सात दिनों तक होगा शहरवासियों के लिए होगा निशुल्क प्रदर्शन

 स्क्रीन पर पड़ने वाली पानी की फुहारें अपने चेहरे पर और जमीन पर रेंगते हुए कीड़े-मकोड़ों को पैरों में रेंगते हुए महसूस करने का रोमांच प्रदान करता है 7 डी सिनेमा। शहरवासियों के लिए यह अनुभव सात दिन के लिए निशुल्क उपलब्ध करवाया है राज्य सरकार के सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग ने।

          शहरवासियों के लिए इस सौगात का उद्घाटन शुक्रवार को फतहसागर पाल पर गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने फीता काटकर किया। कटारिया ने सिनेमा तकनीक की तारीफ करते हुए कहा कि शहरवासी युवा और बच्चों को 7 डी सिनेमा जरुर देखना चाहिए। सिनेमा की नवीनतम तकनीक को लोकप्रिय बनाने हेतु राज्य सरकार के सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग की ओर से मोबाइल वेन पर इस सिनेमा का निशुल्क प्रदर्शन किया जा रहा है।

आमजन की समस्याओं का त्वरित हल करें - कटारिया

News

गृहमंत्री ने सभी विभागों की समीक्षा बैठक में दिए निर्देश

उदयपुर, 13 अप्रैल/गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे शहरवासियों की समस्याओं का त्वरित निस्तारण करते हुए उन्हे राहत प्रदान करें। शुक्रवार को नगर विकास न्यास में आयोजित बैठक में उन्होने यह निर्देश दिए। साथ ही शहर में चल रही विकास योजनाओं की समीक्षा भी उन्होने की।

गृहमंत्री ने पिछले दिनों शहर में वार्डवार जनसम्पर्क किया था। उन दौरान सामने आई जन समस्याओं पर विस्तार से विभागवार चर्चा करते हुए उन्होने संबंधित विभागीय अधिकारियों को शीघ्र समाधान के निर्देश दिए। बैठक में मेयर चंद्रसिंह कोठारी, यूआईटी अध्यक्ष रवीन्द्र श्रीमाली, जिला कलक्टर बिष्णुचरण मल्लिक, पुलिस अधीक्षक राजेंद्र प्रसाद गोयल, नगर निगम आयुक्त सिद्धार्थ सिहाग, एडीएम सिटी सुभाष शर्मा, यूआईटी सचिव रामनिवास मेहता, नगर निगम अतिरिक्त मुख्य अभियंता अरुण व्यास सहित अन्य विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

कटारिया ने दिए आवंटन पत्र

News

उदयपुर, 13 अप्रैल। गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने यूआईटी में शुक्रवार को हर्षनगर, सीसारमा के 38 लोगों को उनके मकानों के आवंटन पत्र प्रदान किये। शीघ्र ही इन्हे पट्टे जारी किए जाएंगे। पूर्व में 75 को आवंटन पत्र जारी किए जा चुके हैं। यूआईटी ने स्वप्रेरित 90 ए की कार्यवाही करते हुए इस कॉलोनी की कृषि योग्य भूमि को आवासीय में रुपान्तरित कर यह कार्यवाही की है। 

भामाशाह पशु बीमा के लाभार्थियों को चैक वितरण

उदयपुर, 13 अप्रेल/राजस्थान सरकार की फ्लैगशीप योजना भामाशाह पशु बीमा योंजना अन्तर्गत चेतक सर्कल स्थित पशुपालन विभाग में शुक्रवार को लाभान्वितों को क्लैम राशि का वितरण किया गया।पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. ललित जोशी ने बताया कि सराड़ा के अदवास, जावद, झुनीझर क्षैत्र के पशुपालकों को चैक उदयपुर दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ लिमिटेड की चेयरमेन डॉ. गीता पटेल के हाथों वितरित किये गये।

अम्बेडकर जयंती पर छात्रावास की बालिकाओं ने निकाली प्रभात फेरी

News

उदयपुर, 14 अप्रैल। बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर के जन्म जयंती के अवसर पर उदयपुर में छात्रावास के बालक बालिकाओं ने प्रभात फेरी का निकली जिसका समापन अम्बेडकर सर्किल पर हुआ। इस अवसर पर जिला कलेक्टर श्री बिष्णु चरण मल्लिक, जिला परिषद् सीईओ श्री अविचल चतुर्वेदी, एडीएम सिटी श्री सुभाष शर्मा व जिला परिषद एसीईओ श्री मुकेश कलाल सहित समस्त अधिकारियों एव बालक बालिकाओं ने बाबा साहेब की मूर्ति पर माल्यार्पण किया

बाल विवाह रोकने हेतु जिला कलक्टर ने उठाए कड़े कदम ग्राम स्तरीय कमिटियां गठित, निमंत्रण पत्र पर छापनी होगी जन्मतिथि

आगामी अक्षय तृतीया एवं पीपल पूर्णिमा के अबूझ सावों पर बाल विवाह होने की सम्भावना को देखते हुए जिला कलक्टर बिष्णुचरण मल्लिक ने कड़े कदम उठाए हैं। जिला कलक्टर ने आदेश जारी कर बाल विवाह की प्रभावी रोकथाम हेतु जिले में ग्राम स्तरीय, तहसील स्तरीय समितियों के गठन के साथ ही उपखंड स्तरीय सतर्कता दल का गठन किया है

नियंत्रण कक्ष स्थापित

जिला कलक्टर के आदेश पर सभी थानों में कंट्रोल रुम स्थापित किए गए हैं जिन पर बाल विवाह की सूचना दी जा सकती है। इसके अलावा जिला स्तर पर कलेक्ट्रेट में स्थापित बाढ़ नियंत्रण कक्ष के दूरभाष क्रमांक 0294-2414620, महिला एवं बाल विकास विभाग के नियंत्रण कक्ष के 0294-2425366 तथा पुलिस के ओसीआर क्रमांक 0294-2415133 पर भी बाल विवाह संबंधी सूचना दी जा सकती है।

News

प्रदेश में लगातार तीन साल से अपराधों में आई कमी

पुलिस दिवस पर गृहमंत्री कटारिया का बयान

उदयपुर, 16 अप्रैल। गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि प्रदेश में शांति व्यवस्था बनाए रखना और अपराध पर नियंत्रण रखना पुलिस का मुख्य दायित्व है जिसका निर्वहन राजस्थान पुलिस सफलतापूर्वक कर रही है। राजस्थान दिवस पर मैं अपने सभी पुलिसकर्मियों और अधिकारियों को बधाई देता हूं। राजस्थान पुलिस दिवस पर मीडिया से बातचीत में गृहमंत्री ने यह बात कही।

कटारिया ने कहा कि आईपीसी की धाराओं के तहत आने वाले अपराधों में पिछले तीन वर्ष से लगातार कमी आई है। यह गृह विभाग के सभी अधिकारियों व पुलिसकर्मियों के सम्मिलित प्रयासों का नतीजा है। उन्होने कहा कि तीन वर्षों में प्रदेश में 21 प्रतिशत अपराध कम हुए हैं। महिला अपराध में भी 21 प्रतिशत और अनुसूचित जाति- जनजाति से जुड़े अपराधों में 40 से 44 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई है।

बाल विवाह की रोकथाम सहयोग हेतु जिला कलक्टर ने की अपील

जिला कलक्टर बिष्णुचरण मल्लिक ने जिले के आमजन से अपील की है कि वे बाल विवाह जैसी कुरीति के विरुद्ध संघर्ष में साथ देकर जिम्मेदार नागरिक होने का कर्तव्य निभाएं।

आमजन के नाम जारी अपील में कलक्टर ने कहा कि समाज के जागरुक गणमान्य नागरिक, युवा एवं प्रबुद्धजन बाल विवाह के अभिशाप को मिटाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकते हैं। इसके लिए जमीनी स्तर तक अधिकारियों की जिम्मेदारी तय करने के साथ ही विभिन्न कंट्रोल रूम स्थापित किए गए हैं। कोई भी नागरिक बाल विवाह की सूचना इन कंट्रोल रुम के नंबर्स पर दे सकता है। जिला बाल कल्याण समिति अध्यक्ष - 9680007834, कलेक्ट्रेट में स्थापित बाढ़ नियंत्रण कक्ष - 0294-2414620, महिला एवं बाल विकास विभाग का नियंत्रण कक्ष -0294-2425366, पुलिस का ओसीआर - 0294-2415133, विधिक सेवा प्राधिकरण - 0294-2412210 व 2414610, चाइल्ड हेल्प लाइन - 1098 के साथ ही सभी थानों में भी बाल विवाह की सूचना दी जा सकती है।

दादिया में सम्पन्न हुई जिला कलेक्टर की रात्रि चैपाल

News

 जिला कलेक्टर विष्णुचरण मल्लिक की अध्यक्षता में
मंगलवार क¨ ग¨गुंदा क¢ दादिया ग्राम पंचायत के राजकीय उच्च माध्यमिक
विद्यालय परिसर में रात्रि चैपाल का आयोजन किया गया। रात्रि चैपाल में
विधायक प्रताप लाल गमेती, प्रधान पुष्कर तेली, एसडीएम डॉ् अंजली
राजोरिया, सीएमएचआ डॉे  संजीव टांक, तहसीलदार हुकुम कंवर, विकास अधिकारी
रणजीत चैधरी, सरपंच अणछी देवी व उपसरपंच शंकर लाल तेली सहित अन्य स्थानीय
जनप्रतिधि एवं अधिकारीगण मौजूद रहे।
जिला कलेक्टर ने सरकार की फ्लैगषिप योजनाओं के क्रियान्वयन की स्थित की
जानकारियां लेते हुए ग्रामीणों की समस्याओं को सुना।

ग्राम स्वराज अभियान के तहत शिविर आयोजित

News

 भारत सरकार के दिषा निर्देषानसुार गा्रम पंहाडा तहसील
खेरवाडा में ग्राम स्वराज अभियान के तहत षिविर आयोजित किया गया। जिला
अग्रणी बैंक प्रबन्धक श्री एम के भटट ने बताया कि भारत सरकार ने लगभग
21058 ग्रामांे का चयन किया है जिसमें उस ग्राम में ष्षत प्रतिषत जन धन
खाते, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा
योजना तथा मुद्रा एवं किसान क्रेडिट कार्ड जारी किये जा रहे हैं।

अप्रेल 2018 से 5 मई 2018 तक चलेगा अभियान
श्री भटट ने बताया कि ग्राम पंहाडा में 2011 के अनुसार 239 परिवार व 1303
की आबादी है।
इस षिविर में अब तक 40 जन धन के खाते, 48 प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा
योजना, 14 प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा के फार्म भरे गये है।
श्री भटट ने बताया कि इस अवसर पर आर सेटी की ओर से समूह की महिलाओं को
प्रषिक्षण दिया जा रहा है। उक्त षिविर में जिला प्रषासन द्वारा
प्रधानमंत्री की अन्य सात योजनाओं से लाभान्वित करने हेतु एक विेषेष
सर्वे का कार्य चलाया जा रहा है एवं इस अभियान में एक जिला स्तरीय षिविर
का आयोजन किया जाना है। जिसमें सभी विभाग अपनी अपनी येाजनाओं का प्रसार
प्रचार कर लोगो को लाभान्वित करेगे।

ग्रामीण क्षेत्र को नवीनतम तकनीक से जोड़ने में डाक विभाग का एक और कदम

केन्द्रीय संचार राज्यमंत्री श्री सिन्हा ने किया ”दर्पण-पीएलआई“ एप्लीकेशन का शुभारम्भ

 श्री नरेन्द्र मोदी के डिजीटल इंडिया के सपने को साकार बनाने हेतु भारत सरकार के संचार राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने मंगलवार को डाक भवन, नई दिल्ली में ”दर्पण-पीएलआई“ एप्लीकेशन का शुभारम्भ किया। साथ ही उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये उदयपुर प्रधान डाकघर को भी इस योजना की सौगात दी।

          श्री सिन्हा ने प्रधान डाकघर उदयपुर में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से डाक भवन, नई दिल्ली में शुभारम्भ की गई योजना के दौरान अपने अभिभाषण में कहा कि डाक विभाग द्वारा इस क्षेत्र में की गई पहल से डाक जीवन बीमा व ग्रामीण डाक जीवन बीमा के ग्रामीण क्षेत्र के ग्राहकों को विक्रय पश्चात् सेवा त्वरित गति से प्रदान की जा सकेगी।

दर्पण प्रोजेक्ट

श्री सिन्हा ने बताया कि भारतीय डाक विभाग द्वारा सम्पूर्ण देश के 1.29 लाख शाखा डाकघरों के डिजीटलीकरण हेतु सूचना प्रौद्योगिकी आधुनिकीकरण योजना के अन्तर्गत दर्पण (डिजीटल एडवान्समेंट ऑफ रूरल पोस्ट ऑफिस फॉर ए न्यू इण्डिया) प्रोजेक्ट का शुभारम्भ किया गया, जिसका उद्देश्य सभी शाखा डाकघरों में समस्त वित्तीय लेनदेन ऑनलाइन माध्यम से किया जाना है।

ऑनलाइन हुए 61941 शाखा डाकघर

इस प्रोजेक्ट के अन्तर्गत देश के विभिन्न छोरों पर स्थित ग्रामीण क्षेत्र के 61,941 शाखा डाकघरों में कार्यरत् ग्रामीण डाक सेवकों को सिम आधारित सोलर पैनल युक्त हैण्डहेल्ड डिवाइस प्रदान कर ऑनलाइन किया जा चुका है।

इस एप्लीकेशन के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के शाखा डाकघरों में देश में किसी भी डाकघर में डाक जीवन बीमा व ग्रामीण डाक जीवन बीमा पॉलिसियों का प्रीमियम जमा करवाया जा सकता है तथा प्रत्येक पॉलिसी की जमा राशि का विवरण ऑनलाइन देखा जा सकता है। इसके अतिरिक्त इस एप्लीकेशन के शुभारम्भ से परिपक्वता भुगतान भी ग्रामीण क्षेत्र के डाकघरों में किया जा सकेगा।

प्रथम ग्राहक बनी श्रीमती कुन्दन प्रभा सुखवाल

          इस सेवा का शुभारम्भ पूरे भारतवर्ष में उदयपुर डाक मण्डल से प्रथम ग्राहक श्रीमती कुन्दन प्रभा सुखवाल की डाक जीवन पॉलिसी का प्रीमियम डाक भवन, नई दिल्ली में शाखा डाकपाल, भोइयों की पंचोली द्वारा हैण्डहेल्ड डिवाइस से जमा किया गया।

वीसी में ये रहे मौजूद

इस दौरान उदयपुर में वीडियो कांफ्रेंसिंग में मुख्य पोस्टमास्टर जनरल बी.बी.दवे, पोस्टमास्टर जनरल रामभरोसा, निदेशक डाक सेवाएदुष्यन्त मुद्गल, उदयपुर मण्डल के प्रवर अधीक्षक डाकघर, ंआर.एस. शक्तावत सहित शाखा डाकपाल व ग्राहक भी उपस्थित थे। 

ऑनलाइन हुए सभी कार्य

          इस प्रोजेक्ट के अन्तर्गत दी गई हैण्डहेल्ड डिवाइस के द्वारा शाखा डाकपाल कोर बैंकिंग से संबंधित कार्य, रजिस्ट्री एवं स्पीड पोस्ट आर्टिकल्स की बुकिंग, मनीऑर्डर की बुकिंग, पी.एल.आई./आर.पी.एल.आई. की प्रीमियम जमा तथा पी.एल.आई./आर.पी.एल.आई. के मैच्योरिटी क्लेम आदि सभी कार्य ऑनलाइन कर सकेंगे, जो कि पूर्व में मैन्यूअल किए जा रहे हैं । 

राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के सदस्यों ने किया दौरा

News

राजस्थान राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के सदस्य सचिव हरिकुमार गोदारा व सदस्य सीताराम शर्मा ने उदयपुर प्रवास के दौरान गुरुवार को जिले की बड़गांव पंचायत समिति के इसवाल, कडि़या व लोसिंग क्षेत्रों का दौरा किया।

इस दौरान उन्होंने खरवड़, चदाणा, उंठड परमार व नातरायत राजपूत समाजजन से सामाजिक रीति- रिवाजों, शैक्षिक स्थिति, परंपराओं एवं अन्य गतिविधियों के बारे में चर्चा की। इस मौके पर समाज के प्रबुद्धजन की ओर से सदस्यों का स्वागत किया गया।  इस दौरे में समाज के भंवरसिंह चदाणा, बालसिंह खरवड़, रामसिंह चदाणा, चैनसिंह आदि समाजसेवी एवं गणमान्य लोग साथ थे।

उदयपुर नगर निगम बनें मॉडल निकाय - राज्य वित्त आयोग अध्यक्ष ज्योति किरण ने ली नगर निगम की आर्थिक स्थिति की समीक्षा

News

 राज्य वित्त आयोग की अध्यक्ष ज्योति किरण ने कहा कि उदयपुर नगर निगम अच्छा कार्य कर रहा है। आयोग चाहता है कि इसे और भी बेहतर प्रदर्शन कर प्रदेश के अन्य निकायों के लिए मॉडल निकाय के रूप में सामने आना चाहिए।

 गुरुवार को निगम कार्यालय में निगम की आर्थिक स्थिति की समीक्षा बैठक में उन्हांेने यह बात कही। बैठक में आयोग के सदस्य सचिव एससी देराश्री, मेयर चंद्र सिंह कोठारी, आयुक्त सिद्धार्थ सिहाग सहित निगम के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

आयोग अध्यक्ष ने कहा कि पूर्व में प्राप्त फंड के समुचित उपयोग के प्रदर्शन के आधार पर निकायों को बजट आवंटन किया जाएगा। इसलिए नगर निगम को चाहिए कि वह विभिन्न योजनाओं के कार्य एवं विकास कार्यों में पूर्ण पारदर्शिता बरतें। साथ ही बजट का सदुपयोग करते हुए आमजन के लिए उपयोगी कार्यों को समय पर पूर्ण करने को प्राथमिकता दें। वार्डवार आवश्यकतानुसार योजना बनाकर विकास कार्य करवाएं। उन्होने कहा कि निगम अपना राजस्व बढ़ाने के उपायों पर विचार करें बकाया राशि वसूलने पर जोर दें।

आयुक्त ने दिया स्मार्ट सिटी प्रजेंटेशन

निगम आयुक्त सिद्धार्थ सिहाग ने स्मार्ट सिटी एवं अमृत योजना के तहत चल रहे कार्यों का प्रजेंटेशन देते हुए बजट आवंटन एवं उसके व्यय की स्थिति का ब्यौरा दिया। वॉल सिटी में हेरीटेज कार्य एवं मूलभूत सुविधाओं के विकास हेतु करवाए जा रहे कार्यों के बारे में प्रजेंटेशन के माध्यम से जानकारी दी। शहर में हैपीनेस इंडेक्स पर हो रहे कार्यों ऑपन जिम, मोबाइल लाइब्रेरी, क्लॉथ बैंक, वाटर एटीएम, आंगनबाडि़यों में टॉय बैंक,ग्रीन वॉल जैसे कार्यों के बारे में विस्तार से बताया।

अग्निशमन सेवाओं का विस्तार करें

शहर की तंग गलियों में बाइक पर फायरफाइटर की व्यवस्था की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि शहर के लिए अग्निशमन सेवाओं के विस्तार हेतु जो बजट दिया गया है उसका शीघ्र उपयोग करते हुए कार्य सम्पादित करें। चीफ फायर ऑफिसर की कमी को भी उन्हांेने गंभीरता से लिया।

 उन्होंने कहा कि उदयपुर के आसपास वन क्षेत्र होने से आग लगने की घटनाओं की अधिकता रहती है जिसके कारण यहां पर अग्निशमन सेवाओं का सुदृढ़ होना आवश्यक है। उन्होंने पिछले तीन साल में अग्निशमन के क्षेत्र में हुए कार्यों की रिपोर्ट प्रस्तुत करने को भी कहा।

विशेष योजनाओं में सीधे 40 प्रतिशत खर्च कर सकते

आयोग अध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान, जनता जल योजना, स्वच्छ भारत मिशन जैसी कई योजनाओं में निगम अपने बजट का 40 प्रतिशत सीधा खर्च कर सकता है। इन योजनाओं के तहत आमजन को अधिकाधिक लाभ पहुंचाने के लिए यह राशि खर्च करनी चाहिए।

इसके अलावा पेयजल हेतु आवश्यकता होने पर टेंकर से सप्लाई सुनिश्चित करने, सॉलिड वेस्ट का निस्तारण करने, आवारा मवेशियों की समस्या से निबटने, अन्नपूर्णा रसोई के उचित स्थान पर खड़े रहने जैसी व्यवस्थाओं के बारे में आवश्यक निर्देश उन्होंने दिए।

पंचायतीराज उपचुनाव

15 रिक्त पदों के लिए होंगे उपचुनाव

जिले में पंचायतीराज संस्थाओं के 31 मार्च 2018 तक रिक्त हुए 15 पदों के लिए उपचुनाव करवाए जाएंगे। इनमें 1 पंचायत समिति सदस्य व 2 सरपंच, 1 उपसरपंच तथा 11 वार्ड पंचों के रिक्त हुए पदों पर यह उपचुनाव होंगे।

उप जिला निर्वाचन अधिकारी सीआर देवासी ने बताया कि रिक्त पदों में सराड़ा पंचायत समिति में पंचायत समिति सदस्य वार्ड संख्या 10 (अजा), सायरा के सुआवतों का गुड़ा में सरपंच (अजजा महिला), गोगुन्दा पंचायत समिति के छाली सरपंच (अजजा महिला), ओबराकला वार्ड पंच संख्या 4 (सामान्य महिला), मादा वार्ड पंच संख्या 1 (अपिव), तथा वीरपुरा वार्ड संख्या 1 (सामान्य), सेमारी पंचायत समिति के चन्दोड़ा वार्ड पंच संख्या 2 (अजजा) के रिक्त पदों के लिए उपचुनाव होंगे।

इसी प्रकार खेरवाड़ा पंचायत समिति के थाणा पंचायत में वार्ड पंच संख्या 4 (अजजा महिला), करनाउवा उपसरपंच व नयागांव वार्ड पंच संख्या 2 (अजा),  ऋषभदेव पंचायत समिति के पीपली अ में वार्ड पंच संख्या 3 (अजजा) व वार्ड पंच संख्या 2 (अजजा महिला), मावली के वारणी में वार्ड पंच संख्या 4 (अजजा) तथा फलासिया पंचायत समिति के कोल्यारी में वार्ड पंच संख्या 6 (अजजा) व नेवज में वार्ड पंच संख्या 3 (अपिव) के रिक्त पदों पर उपचुनाव करवाए जाएंगे।              

जिला स्तरीय औद्योगिक समिति की बैठक

एडीएम ने दिए नए औद्योगिक क्षेत्रों के लिए भूमि चिन्हीकरण के निर्देश

जिला औद्योगिक समिति की गुरुवार को आयोजित बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर सी.आर.देवासी ने रीको को नए औद्योगिक क्षेत्रों के विस्तार के लिए भूमि चिन्हीकरण करने के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि औद्योगिक क्षेत्रों में बिजली एवं सड़क निर्माण के दौरान कहीं भी पेयजल लाइनें क्षतिग्रस्त नहीं होने पाए, इसका संबंधित विभाग पूरा ध्यान रखें। श्री देवासी ने कलड़वास क्षेत्र में सुलभ कॉम्पलेक्स के लिए निविदाएं निकाली जाकर शीघ्र संचालित करने के निर्देश दिए।

प्रदूषण फैलने वाली इकाइयों के विरुद्ध कार्रवाई

बैठक में औद्योगिक इकाइयों द्वारा प्रदूषण फैलाने पर कार्रवाई बाबत प्रदूषण नियंत्रण मण्डल की ओर से बताया गया कि कानपुर पंचायत क्षेत्र में दो औद्योगिक इकाइयों को नोटिस जारी किए गए हैं। नियमों का उल्लंघन करने वाली इकाइयों के विद्युत संबंध विच्छेद करने की कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

सुखेर जीएसएस के लिए जमीन आवंटित

बैठक में बताया गया कि सुखेर से जीएसएस निर्माण के लिए रीको की ओर से 900 वर्गमीटर भूखण्ड आवंटित कर दिया गया है। गुड़ली क्षेत्र में जीएसएस के लिए भूखण्ड आवंटन प्रक्रियाधीन है।

बैठक में औद्योगिक इकाइयों की ओर से औद्योगिक क्षेत्रों के लिए उपयोगी सुझाव दिए गए। बैठक का संचालन जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंध विपुल जानी ने किया। बैठक में रीको के क्षेत्रीय प्रबंधक नीमेश, एवीवीएनएल, जलदाय, निर्माण, आरएफसी सहित अन्य विभागों एवं औ़द्योगिक संघों के पदाधिकारी मौजूद थे।

गृहमंत्री कटारिया ने किया 53 लाख की लागत के दो सड़क डामरीकरण कार्यों का शुभारंभ

News

गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने रविवार को शहर के देवाली छोर स्थित ट्रेजर टाउन के समीप दो सड़क डामरीकरण कार्यों का शुभारंभ किया ।  इन कार्यों के तहत फतेहसागर फीडर के सहारे बड़गांव ट्रेजर टाउन से चिकलवास मोड़ तक तथा टाइगर हिल रिसोर्ट से कटारा गांव तक सड़क डामरीकरण कार्य किया जाएगा।

इस मौके पर गोगुंदा विधायक प्रतापलाल भील बड़गांव प्रधान खूबीलाल पालीवाल उप प्रधान उषा डांगी स्थानीय सरपंच कैलाश शर्मा उपसरपंच नेनचंद सुथार यूआईटी सचिव रामनिवास मेहता अभियंता विपुल जानी सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि समाज सेवी एवं बड़ी संख्या में क्षेत्रवासी मौजूद रहे।  

श्री कटारिया ने इन कार्यों  की शुभारंभ पट्टिका का अनावरण करते हुए इस  मौके पर आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि इन सड़कों के डामरीकरण एवं सुदृढ़ीकरण से फतेहपुरा वाया बड़गांव होते हुए चिकलवास से आगे जाने वाले राहगीरों को राहत मिलेगी तथा आए दिन जाम की समस्या से भी निजात मिलेगी। इस मौके पर उन्होंने  शहर के चहुंमुखी विकास पर प्रकाश डालते हुए  यूआईटी अध्यक्ष और  उनकी पूरी टीम के प्रयासों की सराहना की। गृहमंत्री ने मौजूद जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों से  जन हित के कार्य पूर्ण प्राथमिकता व गुणवत्ता के साथ तय समय में पूरा करने का आह्वान किया । इस मौके पर गोगुंदा विधायक  ने क्षेत्रीय विकास पर प्रकाश डाला एवं यूआईटी के प्रयासों की सराहना की।

यूआईटी अध्यक्ष रवींद्र श्रीमाली ने यूआईटी द्वारा शहर के विभिन्न क्षेत्रों में करवाए गए विकास कार्यों पर प्रकाश डालते हुए बताया कि इन सड़क डामरीकरण कार्यों के तहत बड़गांव ट्रेजर टाउन से चिकलवास मोड़ तक 2 किलोमीटर तक लंबी की इस सड़क के डामरीकरण में 33.0 4 लाख का व्यय होगा वही टाइगर हिल रिसोर्ट से कटारा गांव तक 1. 4 किलोमीटर की सड़क निर्माण में 19. 52 लाख की लागत आएगी । श्री कटारिया ने इन निर्माण कार्यों को वर्षा काल से पूर्व करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। 

 समारोह को बड़गांव प्रधान श्री पालीवाल ने भी संबोधित किया। प्रारंभ में स्वागत उद्बोधन स्थानीय सरपंच श्री शर्मा ने दिया। संचालन भूपाल सिंह राणा ने किया व आभार यूआईटी सचिव श्री मेहता ने जताया।

 

विशेष योग्यजन शिविर में अंग उपकरण वितरित दिव्यांगजन के सशक्तिकरण के लिए सरकार सतत प्रयासरत-कटारिया

News

जिला प्रशासन एवं सामाजिक न्याय अधिकारिता विभाग के संयुक्त तत्वावधान में शुक्रवार को पंचायत समिति गिर्वा में विशेष योग्यजन शिविर के तीसरे चरण के तहत गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया के मुख्य आतिथ्य में अंग उपकरण वितरित किए गए।

इस मौके पर उदयपुर ग्रामीण विधायक फूलसिंह मीणा, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) सी.आर.देवासी व गिर्वा के विकास अधिकारी सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारीगण मौजूद थे।

कार्यक्रम में गृहमंत्री कटारिया ने विशेष योग्यजनों के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिए गए दिव्यांग शब्द के बारे में बताते हुए कहा कि शारीरिक अक्षमता होते हुए भी ईश्वर द्वारा प्रत्येक ऐसे व्यक्ति को विशेष योग्यता प्रदान की जाती है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक दिव्यांगजन को सशक्त बनाने के लिए सरकार सतत प्रयासरत है जिससे वह स्वयं का कल्याण कर सके और राष्ट्र के प्रति अपने दायित्वों का निर्वहन कर सके। उन्होंने दिव्यांगजन की सेवा को पुनीत कार्य बताया।

इस मौके पर विधायक मीणा ने दिव्यांगजन के कल्याण के लिए सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों की जानकारी दी। एडीएम श्री देवासी ने प्रधानमंत्री के सुगम्य भारत अभियान व दिव्यांगजन अधिनियम के संबंध में अवगत कराया।

प्रारंभ में सामाजिक न्याय एवं अधिकारित उपनिदेशक गिरीश भटनागर ने शिविर के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए विभागीय योजनाओं एवं प्रगति से अवगत कराया।

अंग उपकरण वितरित

समारोह में मुख्य अतिथि एवं अन्य अतिथियों द्वारा दिव्यांगजन को 40 ट्राइसाइकिल, 10 स्मार्टकेन, 10 हियरिंग ऐड, 10 व्हील चेयर, 2 बैशाखी एवं वाकिंग स्टिक प्रदान कर लाभान्वित किया गया। कार्यक्रम में कृषि उपज मण्डी समिति द्वारा कृषक दुर्घटना बीमा के चेक भी वितरित किये गये।

कार्यक्रम में विभाग के सामाजिक सुरक्षा अधिकारी कल्पित शर्मा, प्रवीण पानेरी, हर्षित कुमार पंचोली, लोगरलाल मीणा, छात्रावास अधीक्षक लोगर बंधु, जे.पी.पण्ड्या, विनोद कुमार, कमलेश सालवी, राकेश व अरविंद आमेटा आदि का सहयोग रहा। अंत में आभार विकास अधिकारी अजय आर्य ने जताया।

एसबीआई के मुख्य महाप्रबन्धक ने किया सेक्टर 11 स्थित शाखा का निरीक्षण

News

एसबीआई के राजस्थान सर्कल के प्रमुख एवं मुख्य महाप्रबन्धक विजय रंजन ने शुक्रवार को शहर के सेक्टर 11 पारस चोराहा स्थित एसबीआई यााखा का निरीक्षण किया। श्री ने शाखा में उपस्थित ग्राहकों से संवाद किया एवं ग्राहकों से शाखा की कार्यप्रणाली के बारे में चर्चा की।

 इस दौरान श्री रंजन ने शाखा प्रबन्धक हेमन्त कुमार शर्मा को सम्पूर्ण राजस्थान सर्कल में गत वर्ष में सर्वाधिक एसबीआई म्यूचल फण्ड संगं्रहण हेतु प्रथम पुरस्कार प्रदान किया। श्री रंजन द्वारा शाखा के बाहर ई -लॉबी का भी निरीक्षण किया गया। इस अवसर पर बैंक के उदयपुर प्रशासनिक कार्यालय के उपमहाप्रबन्धक एस. विजय कुमार, क्षेत्रीय प्रबन्धक आर.पी. गुप्ता एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 

जिले के 34 गांवों में एलपीजी पंचायतों का आयोजन बड़ी संख्या में उज्ज्वला योजना के कनेक्शन जारी

News

ग्राम स्वराज्य अभियान के तहत उदयपुर जिले के देबारी व नाई सहित विभिन्न 34 गांवों में एलपीजी पंचायतों का आयोजन हुआ जिसमें क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों सहित मंत्रालयिक प्रतिनिधियों, तेल कंपनियों के अधिकारियों व ग्रामीणों ने भाग लिया।

नोडल अधिकारी अंशुल कुलश्रेष्ठ ने बताया कि कार्यक्रम में बड़ी संख्या में ग्रामीण महिलाओं को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत लाभान्वित किया गया। उन्होंने बताया कि जिले में योजना के अंतर्गत अब तक 1.76 लाख एलपीजी कनेक्शन जारी किए जा चुके है।

6 रीफिल पर मिलेगी सब्सिडी

उन्होंने बताया कि गैस कनेक्शन पाने वाले पात्र लाभार्थियों को 6 रीफिल पर सब्सिडी मिलेगी और ऋण का पैसा सातवीं रीफिल की सब्सिडी से कटेगा। कार्यक्रम में लाभार्थियों को एलपीजी के सुरक्षित इस्तेमाल व योजना के लाभों के बारे में बताया गया।

उन्होंने बताया कि योजना को क्षेत्रीय महिलाएं खासा उत्साहित है। महिलाओं ने बताया कि जहां पहले चूल्हें पर खाना पकानों में अत्यधिक समय लगता था और धुंआ युक्त वातावरण से स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ता उससे अब छुटकारा मिला है और समय की बचत के साथ रोजमर्रा के कार्यों में भी बदलाव आया है।

जिला स्तरीय यातायात प्रबन्धन समिति की बैठक

सुगम यातायात एवं परिवहन व्यवस्था को बेहतर बनाने के निर्देश

जिला स्तरीय यातायात प्रबन्धन समिति की बैठक शुक्रवार को जिला कलक्टर बिष्णुचरण मल्लिक की अध्यक्षता में आयोजित हुई। कलक्टर ने शहर एवं जिले में सड़क सुरक्षा सप्ताह के आयोजन के साथ ही सुगम यातायात एवं परिवहन व्यवस्था को बेहतर बनाने के निर्देश संबंधित विभागों को दिए।

कलक्टर ने निर्देश दिए कि शहर में विभिन्न स्थानों पर लम्बे समय से जर्जर अवस्था में पड़े हुए लगभग 400 से अधिक वाहन जो यातायात को बाधित करते है एवं आमजन के लिए दुर्घटनाओं का कारण बने हुए है, इन वाहनों को पुलिस एक्ट की धारा 38 के तहत जब्त किया जाकर अग्रिम विधिक कार्यवाही की जाएं। महाराणा भोपाल चिकित्सालय के मुख्य द्वार पर स्थित सड़क को पार करने के लिए ’फुथ ओवर ब्रिज’ के निर्माण के प्रस्ताव तैयार करने हेतु कन्सलटेंट की सेवाएं लिए जाने का निर्णय लिया गया।

बैठक में शहर के बाहरी क्षेत्र में विकसित हो रही कॉलोनियों के 30 फीट से अधिक चौड़ाई वाली सड़कों पर सुरक्षित यातायात प्रवाह के लिए रम्बल स्ट्रिप, उचित मानक के स्पीड़ ब्रेकर एवं अन्य आवश्यक साइन बोर्ड लगाए जाने के निर्देश दिए गए।

29 वाँ राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह 23 अप्रेल से

प्रादेशिक परिवहन अधिकारी डॉ. मन्नालाल रावत ने बताया कि बैठक के दौरान 23 अप्रेल से 30 अप्रेल तक आयोजित होने वाले 29 वाँ राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत सप्ताह का आगाज यातायात पुलिस द्वारा रिजर्व पुलिस लाईन स्थित सामुदायिक भवन में आयोजित कार्यक्रम से किया जाएगा। इस दिन सड़क सुरक्षा रैली का आयोजन एवं सड़क सुरक्षा प्रदर्शनी की शुरूआत की जाएगी। सप्ताह के दौरान पुलिस एवं परिवहन विभाग द्वारा जिले के सभी ट्रेक्टर ट्रोलियों पर रिफ्लेक्टिव टेप चस्पा की जावेगी तथा विभिन्न विभागों द्वारा आयोजित जन जागरूकता कार्यक्रम, ब्लैक स्पॉट्स के सुधार, काव्य गोष्ठी, प्रवर्तन कार्य तथा विभिन्न प्रकार के प्रषिक्षण कार्यक्रमों के आयोजन के सम्बन्ध में विभागवार प्रभारियों की नियुक्ति की गई।

प्रार्थना सभा में हो सड़क सुरक्षा पर चर्चा

जिला कलक्टर ने निर्देश दिये कि माध्यमिक शिक्षा विभाग सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान प्रतिदिन आयोजित प्रार्थना सभा में सड़क सुरक्षा के दस स्वर्णिम नियमों एवं अच्छा मददगार  पोस्टर्स/सूचनाओं पर अधिकाधिक चर्चा करें एवं सड़क सुरक्षा क्लब्स से जुड़े विद्यार्थियों का प्रशिक्षण सुनिश्चित करें। ब्लैक स्पोट्स सुधार एवं रोड़ सेफ्टी ऑडिट सम्बन्धि कार्य इसी अवधि में पूर्ण करने के निर्देश दिये गये। जिला कलक्टर ने निर्देश दिये कि जिला पुलिस द्वारा पुरे जिले में सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान सीएलजी बुलाई जाए जिसका प्रमुख मुद्दा सड़क सुरक्षा हो।

जिला कलक्टर ने उपखण्ड स्तर पर उपखण्ड अधिकारी एवं उपाधीक्षक पुलिस सड़क सुरक्षा विषय को लेकर राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान प्रतिदिन सम्बन्धित हित-धारक समुहों के साथ ही सरकार के स्थानीय जिम्मेदार अधिकारियों के साथ प्रतिदिन अलग-अलग मार्गों पर भ्रमण करने एवं सुरक्षित यातायात के लिए आवश्यक समाधान के निर्देश दिए।

मेवाड़ जैव विविधता पार्क की ओर जाने का मार्ग बने सुगम

चीरवा घाटे में स्थित राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 8 से मेवाड़ जैव विविधता पार्क की ओर मुड़ने के स्थान को ओर अधिक सुरक्षित बनाने के उद्देश्य से राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण को निर्देश दिये कि आगामी एक माह में उचित स्थान पर मिडियन का निर्माण करें।

लगे आवश्यक साइन बोर्ड

बैठक में निर्देश दिए गए कि महाराणा प्रताप हवाई-अड्डे के सामने राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 76 पर दुर्घटना की संभावना को कम करने के उद्देश्य से चित्तौड़गढ़ से उदयपुर की ओर आने वाले मार्ग पर मिडियन से 50 मीटर पूर्व से निर्धारित मानकों के अनुरूप रम्बल स्ट्रिप एवं आवश्यक साईन बोर्ड लगाए जाना सुनिश्चित करे। इसी प्रकार की व्यवस्था चित्तौड़ की ओर जाने वाले मार्ग पर भी किये जाने के निर्देष दिये गये। प्रतापनगर से भुवाणा बाईपास पर बजरी वाले वाहनों की अवैध पार्किंग तथा बजरी की स्टोकिंग के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही के लिए अतिरिक्त जिला कलक्टर (नगर) को निर्देष दिये गये।

बेहतर यातायात सुझावों के लिए समिति का गठन

प्रादेशिक परिवहन अधिकारी डॉ.मन्नालाल रावत ने बताया कि उदयपुर शहर के लिए ट्रेफिक व्यवस्था को सुचारू करने के उद्देष्य से आमजन से प्राप्त लगभग 350 से अधिक सुझावों के परीक्षण के लिए पाँच सदस्यीय समिति का गठन किया गया जिसमें आरटीओ डॉ. मन्नालाल रावत, नगर विकास प्रन्यास के अधीक्षण अभियंता, संजीव,यातायात पुलिस उपाधीक्षक भंवर सिंह नगर निगम के अधिषाषी अभियंता मनीष एवं समिति सदस्य शंभू जैन सम्मिलित है। यह समिति प्राप्त सुझावों के आधार पर शहर का भ्रमण करते हुए 1 माह में प्रतिवेदन प्रस्तुत करेगी।

 

एक मुश्त समाधान योजना’’ का प्रथम शिविर आयोजित

अल्पसंख्यक समुदाय के 4 ऋणियों को मौके पर मिली राहत

अल्पसंख्यक समुदाय के ऋणार्थियों को ऋण के बोझ से राहत देने की राज्य सरकार को ‘‘एक मुश्त समाधान योजना’’ का प्रथम शिविर शुक्रवार को आयड़ स्थित श्री चारभुजानाथ सत्संग भवन में आयोजित हुआ।

जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी सुरेन्द्र कुमार जैन ने बताया कि शिविर में परिक्षेत्र के डिफॉल्टर ऋणार्थियों को राज्य सरकार की ‘‘एक मुश्त समाधान योजना’’ एवं उससे मिलने वाले लाभ के बारे मे अवगत कराया गया। शिविर संयोजक एवं कार्यक्रम अधिकारी मोहम्मद सलीम शेख ने बताया कि षिविर में चार ऋणार्थियों को मौके पर ही 12264 रुपये के दण्डनीय ब्याज का लाभ दिया गया एवं उनसे मूलधन व ब्याज के रूप मे राशि 94265 रु विभाग को प्राप्त हुई।

इस दौरान पार्षद श्रीमती हेमा भावसार, जनप्रतिनिधि इकबाल मोहम्मद रंगरेज, अय्यूब मोहम्मद छीपा, रईस खान पठान, ऋण प्रभारी मोहनगिरी गोस्वामी, सहप्रभारी सुरतसिंह यादव, पूरणदास वैरागी एवं गणमान्य समाजसेवियों ने सहयोग दिया।

दूसरा शिविर 30 अप्रेल को

श्री जैन ने बताया कि योजना के तहत दूसरा शिविर 30 अप्रेल को मदरसा सिद्धिकिया इसलामिया, महावतवाडी, उदयपुर में आयोजित होगा, जिसमे परिक्षेत्र महावतवाडी, जाटवाडी, सिलावटवाडी, चित्तौड़ो का टिम्बा, हाथीपोल, चमनपुरा एवं मालदास रट्रीट के आवेदकों को राहत प्रदान की जाएगी।

वन क्षेत्रों में लगी आग काबू पाने के लिए वन विभाग सतत मुस्तैद

जिले के दुर्गम वन क्षेत्रों में पिछलों कुछ दिनों में लग रही आग पर काबू पाने के वन विभाग बड़ी मुस्तैदी से कार्यरत है। जयसमन्द क्षेत्र के क्षेत्रीय वन अधिकारी ने बताया कि 17 को जूनीसर गामडी बीट व नान्दवी घाटी में आग लगने की सूचना पर क्षेत्रीय स्टॉफ व श्रमिकों के प्रयासों को आग बुझाई गई।

वही 18 अप्रेल को 18 वनकर्मी व स्थानीय श्रमिकों ने चांदघाटी नान्दवी की ओर लगी आग को करोन्दिया भेरूेजी से फायर लाइन द्वारा बुझानेे का कार्य किया। 19 को नान्दवेल धुणी व 20 को सलाडिया कोट वन क्षेत्र में विभाग के कर्मियों द्वारा मुस्तैदी से कार्य करते हुए आग पर काबू पा लिया गया। इस कार्य के दौरान उपवन संरक्षक हरिणी वी. व जयसमंद वनपाल दिनेश मीणा भी मौजूद रहे।

 

सांसद मीणा ने किया सड़क सुरक्षा सप्ताह का शुभारंभ सड़क सुरक्षा में विद्यार्थियों एवं युवाओं की भूमिका अहम-मीणा

News

जिला प्रशासन एवं परिवहन विभाग के तत्वावधान में सड़क सुरक्षा सप्ताह का शुभारंभ सोमवार को सूचना केन्द्र में उदयपुर सांसद अर्जुनलाल मीणा के मुख्यातिथ्य में हुआ। श्री मीणा ने इस मौके पर उपस्थित स्कूली विद्यार्थियों, स्काउट-गाइड्स एवं युवाजन से सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूक रहकर आमजन को जागरूक करने का आह्वान किया।

उन्होंने सड़क सुरक्षा में विद्यार्थियों एवं युवाजन के भूमिका को सबसे अहम बताया। उपस्थित जन समूह से सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करने एवं नियमित हेलमेट पहनने का आह्वान किया। श्री मीणा ने राज्य में वर्ष 2016 की तुलना में वर्ष 2017 में सड़क दुर्घटनाएँ से होने वाली मृत्यु दर में कमी के लिए विभागीय प्रयासों की सराहना की।

कार्यक्रम में प्रादेशिक परिवहन अधिकारी डॉ. मन्नालाल रावत ने बताया कि सडक़ सुरक्षा सप्तान्तर्गत जागरूकता एवं प्रवर्तन हेतु उदयपुर के विभिन्न विद्यालयों में आयोज्य कार्यक्रमों का विवरण प्रस्तुत किया गया, उनके अनुसार सड़क सुरक्षा विषय पर श्रेष्ठ पोस्टकार्ड लिखने वाले 27  विद्यार्थियों को विभाग की ओर से पुरस्कृत किया जाएगा। इस अवसर पर उपस्थित युवाओं ने 100से अधिक पोस्टकार्ड लिखकर अपने परिजनों से सड़क सुरक्षा के नियमों के पालना का आग्रह किया।

इससे पूर्व सांसद मीणा ने सूचना केन्द्र कलादीर्घा में सड़क सुरक्षा जागरूकता प्रदर्शनी का विधिवत फीता काटकर उद्घाटन किया तथा प्रदर्शनी के दौरान लगे पोस्टर्स, बैनर्स, पेम्फलेट्स एवं वि़द्यार्थियों द्वारा लिखित पोस्टकार्ड्स का अवलोकन किया।

इस मौके पर उनके साथ प्रादेशिक परिवहन अधिकारी डॉ. मन्नालाल रावत, एआरटीओ पी.एल.बामनिया, उपनिदेशक (जनसम्पर्क) गौरीकान्त शर्मा, जिला परिवहन अधिकारी डॉ. कल्पना शर्मा, ललित चौधरी, छगन मालवीय व दिलीप तिवारी, एपीआरओ पवन शर्मा, एनसीसी के प्रेमशंकर श्रीमाली सहित स्काउट-गाइड्स व एनसीसी के प्रतिनिधि एवं विभिन्न विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

रिफ्लेक्टर वाहन किये रवाना

इस मौके पर सांसद मीणा एवं अन्य अतिथियों ने सूचना केन्द्र परिसर से तीन रिफ्लेक्टर वाहन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। ये रिफ्लेक्टर वाहन उदयपुर जिले के सभी उपखण्डों में जाकर ट्रेक्टर ट्रॉलियों के पीछे 31 हजार से अधिक रिफ्लेक्टर्स चस्पा करेंगे।

सड़क सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रम

इससे पूर्व सड़क सुरक्षा सप्ताह अंतर्गत सोमवार की सुबह रिजर्व पुलिस लाइन के कॉन्फ्रेंस हॉल में सड़क सुरक्षा जागरूकता कार्यक्रम के तहत पुलिस, यातायात पुलिस, परिवहन विभाग तथा विद्यार्थियों की संगोष्ठ का आयोजन किया गया जिसमें अतिरिक्त जिला कलक्टर सुभाष चन्द्र शर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हर्ष रत्नू, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक माधुरी, आरटीओ डॉ. रावत,उदयपुर ऑटोमॉबोइल डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष रोशन लाल जैन ने अपने विचार रखे।

इस मौके पर एमएमवीएम स्कूल के छात्र मनन भण्डारी तथा ऐश्वर्या मेवाड़ा ने सड़क सुरक्षा विषय पर कविता पाठ कर मौजूद जन को मंत्रमुग्ध कर दिया।

जागरूकता रैली

कार्यक्रम के पश्चात अतिथियों ने हरी झण्डी दिखाकर सडक सुरक्षा जागरूकता संदेश देती बाइक रैली को रवाना किया। रैली पुलिस कॉन्फ्रेंस हॉल, रेती स्टेण्ड, ग्रामीण हाट, भामाशाह चौराहा, जड़ाव नर्सरी, स्वागत वाटिका, सेवाश्रम चौराहा, दुर्गा नर्सरी, शास्त्री सर्कल, बाँस वाली गली, सूरजपोल, बापूबाजार, दिल्ली गेट, अश्विनी बाजार, हाथीपोल, चमनपुरा, शिक्षा भवन चौराहा,चेटक सर्कल, कोर्ट चौराहा, बंशी पान, मीरा कन्या महाविद्यालय, लोक कला मण्डल होते हुए सूचना केन्द्र पर सम्पन्न हुई। इससे पूर्व सभी बाइक राइर्ड्स को परिवहन विभाग की ओर से सड़क सुरक्षा का संदेश देती टी-शर्ट एवं केप प्रदान की गई।

उपखण्ड मुख्यालय पर भी हुए आयोजन

कार्यक्रमों के अतिरिक्त उपखण्ड मुख्यालयों पर राजस्व विभाग, परिवहन विभाग तथा परिवहन विभाग के विविध जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किये गये। जिले की प्रमुख सड़क मार्गों,पंचायत समितियों, पुलिस थानों, तहसीलदार कार्यालयों एवं विद्यालयों पर सड़क सुरक्षा के पोस्टर चस्पा किये गये एवं वाहनों पर रिफ्लेक्टर चस्पा किये गये।

भामाशाह पशु बीमा के लाभार्थियों को चैक वितरण

राजस्थान सरकार की फ्लैगशीप योजना भामाशाह पशु बीमा योंजना अन्तर्गत लाभान्वितों को क्लैम राशि का वितरण सोमवार को चेतक सर्कल स्थित पशुपालन विभाग में किया गया।

भामाशाह पशु बीमा योजना जिला प्रभारी डॉ. ओम साहू ने बताया कि प्रथम श्रेणी पशु चिकित्सालय बड़गांव के पशुपालक भुवाणा निवासी श्रीमती पुष्पा देवी/चतुरभुज सुथार उदयपुर को उनकी गाय की मुत्युपरान्त बीमा कम्पनी की ओर से 40 हजार रुपये का चैक पशुपालन संयुक्त निदेशक डॉ. ललित जोशी द्वारा प्रदान किया गया। इस अवसर पर नोडल अधिकारी डॉ. दत्तात्रेय चौधरी, डॉ. शक्ति सिंह, डॉ अविनाश मेश्राम सहित अन्य पशु चिकित्सा अधिकारी उपस्थित थे।

गर्ल्स कैडेट्स के लिए शूटिंग कार्यशाला शुरू

राष्ट्रीय कैडेट कोर की 5 राजस्थान गर्ल्स बटालियन की ओर से वेस्ट जोन शूटिंग चैपियनशिप एवं राष्ट्रीय कैडेट कोर के आगामी कार्यक्रमों को ध्यान में रखते हुए स्थानीय गर्ल्स कैडेट्स के लिए 7 दिवसीय शूटिंग कार्यशाला सोमवार को शुरू हुई।

बटालियन के कमान अधिकारी सुधाकर त्यागी ने बताया कि भाग ले रहे कैडेट्स को प्रशिक्षण प्रदान किया जाकर उत्कृष्ट प्रतिभागियों को राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओें में भेजा जाएगा। उन्होंने बताया कि यह कार्यशाला 30 अप्रेल तक सुबह 7 से 10 बजे तक आयोजित होगी।

एनसीसी की 5 राजस्थान गर्ल्स बटालियन का वार्षिक निरीक्षण

राष्ट्रीय कैडेट कोर की 5 राजस्थान गर्ल्स बटालियन का वर्ष 2017-18 का वार्षिक निरीक्षण उदयपुर ग्रुप के ग्रुप कमाण्डर विशिष्ट सेवा मैडल कर्नल जे.पी.सिंह ने किया। इस अवसर पर बटालियन के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल सुधाकर त्यागी, एडम ऑफिसर कप्तान अदिति सिंह सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद थे।

निरीक्षण के दौरान कर्नल सिंह ने कैडेट्स द्वारा प्रदर्शित हिल स्टेण्डर्ड की सराहना की व पुरस्कृत किया। इस मौके पर कमान अधिकारी कर्नल त्यागी ने ग्रुप कमाण्डर कर्नल सिंह को पीपीटी के माध्यम से यूनिट की गतिविधियों एवं क्रियाकलापों से अवगत कराया।

ग्रामीणों से संवाद कर जाने योजनाओं के फायदे ग्रामीण विकास संबंधी संसदीय स्थाई समिति का गोगुंदा-कोटडा दौरा

News

 ग्रामीण विकास संबंधी संसद की स्थाई समिति ने सोमवार को गोगुंदा एवं कोटडा पंचायत समिति क्षेत्र का दौरा कर विभिन्न योजनाओं के तहत हुए कार्यों का अवलोकन किया। समिति ने ग्रामीणों से सीधा संवाद कर योजनाओं से हुए लाभ एवं उनके जीवन स्तर में आए बदलाव के बारे में विस्तार से जानकारी ली।

डॉ पी वेणुगोपाल की अध्यक्षता वाली समिति के साथ गोगुन्दा विधायक प्रताप गमेती, गोगुन्दा प्रधान, कोटड़ा प्रधान, जिला कलक्टर बिष्णुचरण मल्लिक, जिला परिषद सीईओ अविचल चतुर्वेदी, वाटरशेड अधीक्षण अभियंता सीएल सालवी, डीएफओ ओपी शर्मा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

जल स्वावलंबन का लाइव मॉडल देखकर हुए अभिभूत

स्थाई समिति ने गोगुंदा की चोर बावड़ी ग्राम पंचायत के बांसड़ा गांव में मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के तहत एमपीटी, स्ट्रेगर ट्रेंच आदि निर्माण कार्यों का अवलोकन किया। समिति सदस्यों के पूछने पर ग्रामीणों ने बताया कि अभियान के तहत निर्मित जल संरचनाओं से वर्षा जल को सहेजने में सफलता मिली है। आसपास के भूमिगत जलस्तर में बढ़ोतरी होने से कुओं एवं हैंडपंप में जल की उपलब्धता बढी है जिससे पीने के पानी, सिंचाई एवं पशुओं के लिए पानी की आवश्यकता की पूर्ति होने लगी है। यहां पर समिति ने जल स्वावलंबन का लाइव मॉडल देखकर अभियान की सफलता पर प्रसन्नता व्यक्त की।

वन उत्पादों को सराहा

कोटड़ा के ग्राम पंचायत मुख्यालय पर वन विभाग द्वारा महात्मा गांधी नरेगा के तहत स्थापित नर्सरी में लगाए गए विभिन्न औषधीय पौधों के बारे में समिति सदस्यों ने जानकारी ली। यहां पर बांस, अलोवेरा , अर्जुन, जामुन, करंज, आंवला, कनेर, हवन, बहेड़ा आदि पौधे लगाए गए हैं। स्वरोजगार महिला वन समितियों की ओर से औषधीय पौधों से विभिन्न उत्पाद बनाने की प्रक्रिया को समिति ने लाइव देखा और इसके व्यावसायिक उपयोग की सराहना की। समितियों की ओर से अगरबत्ती, एलोवेरा जेल, जूस, साबुन, शैंपू एवं हर्बल गुलाल का उत्पादन किया जा रहा है जिनकी बिक्री से महिलाओं की आर्थिक स्थिति में व्यापक सुधार हुआ है।

प्रधानमंत्री आवास योजना के कार्यों का अवलोकन

महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत कोटडा की पंचायत में अनाज भंडार एवं नए पंचायत भवन के निर्माण कार्य समिति ने अवलोकन किया प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत कोटडा के पांडी बोर में निर्मित आवासों का भी समिति सदस्यों ने अवलोकन किया और लाभार्थियों से संवाद किया।

ग्रामीण विकास संबंधी संसदीय स्थाई समिति ने ली बैठक राज्य सरकार के आला अधिकारियों ने दिया प्रजेन्टेशन

News

ग्रामीण विकास संबंधी संसदीय स्थाई समिति ने सोमवार को शहर के एक होटल में बैठक कर प्रदेश में ग्रामीण विकास से जुड़ी योजनाओं के क्रियान्वयन के संबंध में जानकारी प्राप्त की। यह समिति अपनी गोपनीय रिपोर्ट भारत सरकार को प्रस्तुत करेगी। बैठक में राजस्थान सरकार के विभिन्न विभागों के आला अधिकारियों ने विभागीय प्रगति रिपोर्ट प्रजेन्टेशन के माध्यम से प्रस्तुत की।

बैठक में अधिकारियों ने महात्मा गांधी नरेगा, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री की कृषि सिंचाई योजना, मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान, भू-प्रबंधन सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, सार्वजनिक निर्माण, जलदाय एवं बैंकिंग से जुड़ी योजनाओं की प्रदेश में अब तक की प्रगति की रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए क्रियान्वयन की स्थिति को स्पष्ट किया। समिति के सदस्यों ने भी प्रश्नों के माध्यम से योजनाओं के क्रियान्वयन से जुड़ी जानकारी प्राप्त की। इससे पूर्व फिल्ड विजिट के दौरान हुए अनुभवों के आधार पर अपने महत्वपूर्ण सुझाव भी दिए।

बैठक में समिति अध्यक्ष डॉ. पी.वेणुगोपाल, अतिरिक्त सचिव अभिजीत कुमार, निदेशक एस. चटर्जी, सदस्य कामाख्या प्रसाद पासा, लालसिंह बडौदिया, शमशेर सिंह ढुलो, शांता क्षत्री, डॉ. यशवंत सिंह, मानशंकर निनामा, रिपोर्टिंग अधिकारी सतीश कुमार एवं वरिष्ठ निजी सचिव वी.श्रीनिवासन उपस्थित रहे। राज्य सरकार की ओर से अतिरिक्त मुख्य सचिव सुदर्शन सेठी, प्रमुख शासन सचिव रजत मिश्रा, शासन सचिव नवीन महाजन व रोहित कुमार, स्वच्छता, पंचायत राज व स्वायत्त शासन विभाग की निदेशक आरूषी मल्लिक, संभागीय आयुक्त भवानी सिंह देथा, भू-प्रबंध आयुक्त अंबरीश कुमार, पीडब्ल्यूडी सचिव माधवलाल मीणा, वाटरशेड आयुक्त अनुराग भारद्वाज, जिला कलक्टर बिष्णुचरण मल्लिक, बैंक ऑफ बदौड़ा महाप्रबंधक एन.सी.उप्रेती एवं जिला परिषद सीईओ अविचल चतुर्वेदी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

नरेगा में प्रदेश का अच्छा प्रदर्शन

ग्रामीण विकास विभाग के शासन सचिव रोहित कुमार ने अपने प्रजेन्टेशन में बताया कि महात्मागांधी नरेगा योजना के तहत रोजगार सृजन एवं श्रमिकों को ऑनलाइन भुगतान के मामले में अच्छा प्रदर्शन करने पर प्रदेश को देश में पांचवा स्थान प्राप्त हुआ है। उन्होंने आजीविका, श्यामाप्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन, सांसद आदर्श ग्राम योजना सहित विभाग की अन्य योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी ली।

समय से पूर्व हुआ प्रदेश खुले में शौच मुक्त

पंचायतीराज के शासन सचिव नवीन महाजन ने प्रस्तुतिकरण में बताया कि स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) 2019 में प्रदेश के ग्रामीण इलाके को खुले में शौच से मुक्त करना था किन्तु राज्य सरकार ने इसे मिशन मोड पर लेते हुए 31 मार्च 2018 को ओडीएफ करने में सफलता प्राप्त कर ली। उन्होंने बताया कि 80 लाख शौचालय बनाने का लक्ष्य था जिसे समय पूर्व हासिल कर लिया गया। अब प्रदेश के सभी 33 जिले, सभी 249 ब्लॉक, सभी 9894 ग्राम पंचायते एवं शत-प्रतिशत गांव खुले में शौच मुक्त है। इनमें शहरी निकाय क्षेत्र शामिल नहीं है।

जल स्वावलंबन से बढ़ा भूमिगत जलस्तर

वाटरशेट आयुक्त अनुराग भारद्वाज ने बताया कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के दो चरणों के पश्चात प्रदेश के गैर रेगिस्तानी जिलों में भूमिगत जल स्तर में औसतन 4.66 फीट की आशातीत वृद्धि हुई है। पहले चरण में प्रदेश के 3529 गांव में 95 हजार 192कार्य व 28 लाख पौधरोपण करवाए गए वहीं दूसरे चरण में 4213 गांवों में 1 लाख 29 हजार 616 कार्य व 60 लाख पौधरोपण करवाए गए।

वर्तमान में चल रहे तीसरे चरण में प्रदेश के 4306 के गांवों में 1 लाख 55 हजार 185 कार्य स्वीकृत किए गए है एवं 60 लाख पौधरोपण का लक्ष्य रखा गया है। मुख्यमंत्री की इस महत्वाकांक्षी योजना से प्रदेश के गांवों जल आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में अपेक्षित सफलता मिल रही है।

लैण्ड रिकॉर्ड का हो रहा डिजीटलाइजेशन

प्रदेश के भू-प्रबंध आयुक्त अंबरीश कुमार ने समिति के समक्ष प्रजेन्टेशन में बताया कि प्रदेश में भूमि रिकॉर्ड का डिजीटलाइजेशन किया जा रहा है। साथ ही 1 लाख 35 हजार नक्शे भी ऑनलाइन किए जा रहे है। भू स्वामी खाते एवं नक्शे की कापी ई-मित्र से भी ले सकंेंगे ऐसी व्यवस्था की जा रही है। उप पंजीयक कार्यालयों व तहसीलों को इंटीग्रेड करने, तहसीलों के रिकॉर्ड को मॉडर्न करने एवं नवीनतम तकनीक से भूमि का रि-सर्वे किये जाने जैसे कार्यों पर भी उन्होंने प्रकाश डाला।

स्टेट वाटर ग्रिड की योजना तैयार

जलदाय विभाग के प्रमुख शासन सचिव रजत मिश्रा ने समिति को जानकारी दी कि प्रदेश में दुरस्त इलाकों तक पेयजल पहुंचाने हेतु एक समेकित वाटर ग्रिड तैयार किया जा रहा है। जिस पर 1 लाख 10 हजार करोड़ का निवेश होगा। उन्होंने बताया कि फ्लोराइड की समस्या से निजात पाने हेतु प्रदेश में 1 हजार 323 डि-फ्लोरिडेशन मशीन एवं 2 हजार 569 आरओ सिस्टम स्थापित किए जा चुके है जिसका पानी न्यूनतम मूल्य पर उपलब्ध करवाया जा रहा है। इस वर्ष 4 हजार 503 गांवों को पेयजल योजनाओं से जोड़ा गया है।

पेंशन, सड़क व बैंकिंग पर भी हुई चर्चा

संभागीय आयुक्त भवानी सिंह देथा ने प्रदेश के 64 लाख सामाजिक पेंशनर्स को दिए जाने वाली पेंशन के बारे में जानकारी प्रदान की। पीडब्ल्यूडी सचिव माधोलाल मीणा ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत लक्ष्य अर्जित करने तथा अच्छा कार्य करने की एवज में 231 करोड़ का इन्सेंटिव प्रदेश को प्राप्त होने की जानकारी दी। बैंक ऑफ बदौड़ा के महाप्रबंधक ने स्टेट लेवल बैंकर्स कमेटी के क्रियाकलापों की जानकारी दी तथा प्रदेश के बैंकिंग सिस्टम के बारे में बताया। उन्होंने प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना, औ़द्योगिक एवं कृषि आदि क्षेत्रों में बैंकों द्वारा दिए गए ऋण के बारे में जानकारी दी।

सदस्यों ने पूछे प्रश्न

समिति सदस्य कामाख्या प्रसाद पासा ने प्रदेश को पूर्णतः फ्लोराइड मुक्त पानी उपलब्ध कराने की योजना संबंधी प्रश्न पूछे। शमशेर सिंह ढुलो ने 2022 तक सभी को मकान उपलब्ध कराने की प्रधानमंत्री की मंशा पर राज्य सरकार की ओर से किए जा रहे प्रयासों की जानकारी मांगी। उन्होंने बैंकों को सुझाव दिया कि वे आवास हेतु ऋण प्रदान करने के लक्ष्य निर्धारित करें। लालसिंह बडौदिया ने प्रदेश में नल के माध्यम से पेयजल आपूर्ति किये जाने वालों गांवों की संख्या, गर्मी में पेयजल की आपूर्ति की स्थिति, एमजेएसए के तहत बनी जलसंरचाओं की संख्या संबंधी प्रश्न पूछे।

सदस्य मानशंकर निनामा ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना एवं पहाड़ी इलाकों में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सटीक सर्वे करने का सुझाव दिया। डॉ. यशवन्त सिंह ने नरेगा में औसतन कितने दिन का रोजगार दिया जा रहा है, सामाजिक सुरक्षा पेंशन के तहत गरीबों को औसतन कितना पैसा मिल रहा है आदि प्रश्न पूछे। संबंधित विभागीय अधिकारियों ने सदस्यों के इन प्रश्नों के उत्तर देकर जिज्ञासाओं का समाधान किया।

ग्राम स्वराज अभियान

शिविर में बैंकिंग योजनाओं की जानकारी

भारत सरकार के दिशा निर्देशानसुार ग्राम स्वराज अभियान के तहत सोमवार को तहसील खेरवाडा के पहाड़ा गांव में आयोजित शिविर में अटल पेशन योजना, मुद्रा ऋण योजना, किसान क्रेडिट कार्ड योजना सहित विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं एवं बैंकिंग कार्यक्रमों की जानकारी दी गई। शिविर में आरएमजीबी आडिवली एवं सिन्डीकेंट बैंक करावाड़ा के बैेंक अधिकारियो ने लोगो को प्रधानमंत्री जन-धन खाते खोलने व उसकी उपयोगिता पर प्रकाश डालते हुऐ लोगो को प्रधानमंत्री जीवन ज्योती बीमा एवं प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना से जोडने का आह्वान किया।

जिला अग्रणी बैंक प्रबन्धक मुकुन्द कुमार भट्ट ने बताया कि अब तक 10 दिनांे में कुल 47 प्रधानमंत्री जन-धन खाते खोले गये तथा प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत 85 तथा प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना में 66 व्यक्तियो के बीमा किये गये। शिविर में प्रशासन के सहयोग से उपस्थित लोगो को गेस कनेक्शन एवं बिजली के बल्ब के वितरण का कार्य भी किया गया। इस अवसर पर संरपच चुन्नीलाल गरासिया, आरएमजीबी के शाखा प्रबन्धक आर.के.जैन, सिंडिकेंट बैंक करावाडा के शाखा प्रबन्धक, सचिव, एनजीओ लोक शिक्षा संस्थान के सचिव, बैंक सखी श्रीमती रीना गरासिया एवं क्षेत्रवासी मौजूद थे।

 

पंजीकृत क्रेडिट कॉ-ऑपरेटिव समितियों की ऑडिट विभाग स्तर पर

सभी पंजीकृत क्रेडिट कॉ-ऑपरेटिव समितियों की वित्त वर्ष 2017-18 से ऑडिट विभागीय स्तर से नियुक्त विभागीय लेखा परीक्षकों द्वारा की जाएगी। यह ऑडिट व्यवस्था लगातार दो वर्षों के लिए लागू होगी।

सहायक रजिस्ट्रार एवं विशेष लेखा परीक्षक मेहजबीन बानो ने बताया कि सहकारिता विभाग राजस्थान सरकार के निर्देशानुसार क्रेडिट कॉ-ऑपरेटिव सोसायटियों पर प्रभावी नियंत्रण एवं नियमित निगरानी हेतु ऑडिट चार्टेड अकाउन्टेंट से नहीं करवाई जाकर केवल विभागीय लेखा परीक्षकों द्वारा करवाई जाएगी।

गोपालन राज्यमंत्री श्री देवासी 24 को उदयपुर में

गोपालन राज्यमंत्री ओटाराम देवासी 24 अप्रेल की सायं 7 बजे उदयपुर के सेमारी आएंगे। वे वहां आयोजित धार्मिक कार्यक्रम में भाग लेकर रात्रि 11 बजे उदयपुर सर्किट हाउस पहुंचेंगे एवं वहां रात्रि विश्राम करेंगे। श्री देवासी 25 की सुबह 8 बजे पाली के मुण्डारा के लिए प्रस्थान कर जाएंगे।

कोटड़ा के वनवासियों को सौलर लेम्प्स वितरित कर दी उजाले की सौगात

News

वन विभाग की ओर से उदयपुर जिले के सुदुर आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र कोटड़ा के वनवासियों को अन्धेरे से निजात दिलाउजाले की रोशनी उपलब्ध कराने के उद्देश्य से मंगलवार को ग्राम गोगरूद के वन नाके पर आयोजित समारोह में विभिन्न अविद्युतिकृत ग्रामों/फलों में निवासरत परिवारों को उदयपुर सांसद अर्जुनलाल मीणा के हाथों सोलर लेम्प्स प्रदान किए गए।

मुख्य अतिथि सांसद मीणा ने स्थानीय जन समुदाय को सरकार की विभिन्न योजनाओं को लाभ लेनेमनरेगा के तहत व्यक्तिगत लाभ की योजनाओं में भूमि सुधार के कार्य करवानेजन-धन खाता खुलवाने,वन-धन एवं लघु वन उपज के मूल्य संवर्धन से आय बढ़ाने गोपालन करने के साथ-साथ ओरगेनिक खेती से कृषि योग्य भूमि का स्वास्थ्य ठीक रखनेकीटनाशक का प्रयोग यथासंभव नहीं करने एवं खेतों की मेड पर बांस अथवा अन्य प्रजातियों के उपयोगी पौधे लगाने आदि के लिए प्रेरित किया। उन्होंने वन विभाग द्वारा किये जा रहे लघु वन उपज के मूल्य संवर्धन तथा सोलर लेम्पस वितरण जैसे कार्यों की सराहना की। पंचायत समिति कोटड़ा के प्रधान मुरारीलाल बुम्बरिया ने राज्य सरकार व केन्द्र सरकार की विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दी।

उप वन संरक्षकउदयपुर (उत्तर) ओम प्रकाश शर्मा ने बताया कि विभाग एवं ईको सोल्यूशन ट्रस्टमुम्बई के सहयोग से यह कार्य संभव हो पाया है। श्री शर्मा ने बताया कि अब तक कोटड़ा क्षेत्र में विगत 2 वर्षों में कुल 16500 सोलर लेम्प्स का रियायती दरों पर वितरण विभिन्न ग्रामों में समय-समय जन प्रतिनिधियों की उपस्थिति में वन विभाग द्वारा किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में लाभांवित होने वाले प्रमुख ग्रामों में साभरमालघाटासती का खेतपाटीयापारीदेवलागोगुरूदकेन्दरिया बोरमीरिया खुणातिलोईबड़ा मगराकलीमभुण्डाखेतबेकरियापाण्डिबोर व पीपला शामिल है जो रेंज देवला के क्षेत्राधिकार में पड़ते हैं। इन 16 ग्रामों के वनवासी परिवारों को कुल 2000 सोलर लेम्प्स वितरण किये गये।

प्रधानमंत्री के उद्बोधन का लाइव प्रसारण

समारोह में उपस्थित वनवासी परिवारों को पंचायती राज दिवस-2018 के अवसर पर मध्य प्रदेश राज्य के मण्डला में आयोजित कार्यक्रम में माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिये गये उद्बोधन को लाइव सुनाया गया। सांसद श्री मीणा ने प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा इस कार्यक्रम में किये गये आह्वान की तरफ सभी का ध्यान आकर्षित करते हुए उपस्थित जन समुदाय से हाथ खड़े करवाकर संकल्प दिलाया।

कार्यक्रम में नरेन्द्र सिंह गढीहुसाराम गरासिया सहित विभिन्न गांवों के सरपंचगणक्षेत्रीय जनप्रतिनिधिसमाजसेवी एवं बड़ी संख्या में आमजन मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन सहायक वन संरक्षक फतेहसिंह राठौड़ ने किया।

सड़क सुरक्षा सप्ताह सैकड़ों विद्यार्थियों ने जाना सड़क सुरक्षा महत्व

News

जिला प्रशासन एवं परिवहन विभाग के तत्वावधान में आयोजित सड़क सुरक्षा सप्ताह में दूसरे दिन मंगलवार को शहर के विभिन्न विद्यालयों के सैकड़ों विद्यार्थियों ने सूचना केन्द्र कलादीर्घा में आयोजित प्रदर्शनी का अवलोकन कर सड़क सुरक्षा का महत्व जाना।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि डीलर एसोसिएशन के अध्यक्ष रोशन लाल जैन ने विद्यार्थियों को सड़क सुरक्षा के प्रति सजग रहने की बात कही और सुरक्षा नियमों की भलीभांति पालना करने का आह्वान किया। प्रादेशिक परिवहन अधिकारी डॉ. मन्नालाल रावत ने विद्यार्थियों को यातायात नियमों का पालन करने, वाहन धीरे चलाने, नियमित हेलमेट पहनने एवं स्वयं जागरूक होकर अपने अभिभावकों व आमजन को सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूक करने का आह्वान किया। इस मौके पर एआरटीओ पी.एल.बामनिया ने भी विद्यार्थियों को सड़क सुरक्षा जागरूकता संदेश दिया।

जिला परिवहन अधिकारी डॉ. कल्पना शर्मा ने बताया कि इस मौके पर महाराणा मेवाड़ विद्या मन्दिर, द स्टडी बड़ी, दिल्ली पब्लिक स्कूल तथा टेलेन्ट एकेडमी सी.सैकण्डरी स्कूल के 200 से अधिक विद्यार्थियों ने प्रदर्शनी में लगे पोस्टर्स, बैनर्स, पेम्फलेट्स एवं वि़द्यार्थियों द्वारा लिखित पोस्टकार्ड्स का अवलोकन कर सड़क सुरक्षा संबंधी जानकारी प्राप्त की। डॉ. शर्मा ने सड़क सुरक्षा के महत्व पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए विद्यार्थियों को सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करने की बात कही। इस मौके पर विद्यार्थियों अपने परिजनों को पोस्टकार्ड में सड़क सुरक्षा के मार्मिक संदेश लिखे। उन्होंने बताया कि सड़क सुरक्षा विषय पर श्रेष्ठ पोस्टकार्ड लिखने वाले 27 विद्यार्थियों को विभाग की ओर से पुरस्कृत किया जाएगा। प्रदर्शनी स्थल पर विभाग द्वारा कठपुतली शो के माध्यम से भी सड़क सुरक्षा का संदेश दिया गया।

21 वाहनों के विरुद्ध कार्यवाही

जिले में संचालित टेक्सियों, टाटा मैजिक तथा क्रूजर जैसे वाहनों में अनाधिकृत रूप से पायदान से कैरियर को सख्ती से हटाने के लिए परिवहन विभाग द्वारा ’’गैस कटर’’ से अनाधिकृत मॉडिफिकेशन को हटाने का अभियान चलाया। विभिन्न मार्गों पर संचालित इस श्रेणी के 21 वाहनों के विरूद्ध कार्यवाई करते हुए कैरियर व पायदान को हटाया गया एवं टुकड़े करके पुनः वाहन स्वामियों को सौंपे गये। उन्हें भविष्य में इस प्रकार परिवर्तन नहीं करने की हिदायत दी गई एवं अवगत कराया कि यदि अवैध रूप से ऐसा बदलाव किया तो वाहन का फिटनेस निरस्त करते हुए वाहन जब्त किया जाएगा। यह कार्रवाई जिला परिवहन अधिकार- प्रवर्तन छगन लाल मालवीय तथा परिवहन निरीक्षक राजकुमार शर्मा के नेतृत्व में की गई। इसके अतिरिक्त ग्रामीण क्षेत्रों परिवहन विभाग के उड़नदस्तों द्वारा विभिन्न विद्यालयों, सार्वजनिक स्थलों पर जागरूकता कार्य किये गये।

स्कूली बच्चे दे रहे मार्मिक सन्देश

सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत विभिन्न स्कूली बच्चों द्वारा पोस्टकार्ड के माध्यम से अपने अभिभावकों को मार्मिक संदेश दिये जा रहे है। इनमें एक बिटिया ने अपने पिता को लिखा है कि आपको ड्रिंक प्यारा है या परिवार, प्लीज आप ड्रिंक करके वाहन न चलाएॅ। वहीं एक ने अपने पिता को लिखा है कि “आप हमारी सेहत का ख्याल रखते है तो अपनी सेहत का क्यों नहीं? ‘आप शराब पीकर वाहन चलाते हैं और पुलिस वाले दिखते तब ही हेलमेट लगाते हैं बाकी क्यांे नहीं?  अगर आपको कुछ हो गया तो हम क्या करेंगे“।एक साली ने अपने जीजा को लिखा है “आपको बहुत बार बिना हेलमेट ट्राफिक रूल्स तोडते व बिना लाइसेंस के तेज वाहन चलाते देखा है, कृपया आप ऐसा न करें।

15 सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा बैठक

प्रधानमंत्री के नवीन 15 सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा बैठक मंगलवार को अतिरिक्त जिला कलक्टर सी.आर.देवासी की अध्यक्षता में आयोजित हुई।

बैठक में उपस्थित विभिन्न विभागीय अधिकारियों द्वारा उनके विभाग की प्रगति मय अल्पसंख्यक समुदाय को लाभान्वित करने की सूचना सहित प्रस्तुत की गई। समीक्षा के दौरान 15 सूत्रीय मनोनीत सदस्य इरशाद हुसैन चैनवाला ने सार्वजनिक निर्माण विभाग को राजकीय अल्पसंख्यक बालिका छात्रावास का निर्माण शीघ्र कराने की बात कही।  बैठक में शिक्षा विभाग को अध्यक्ष द्वारा अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्रों में उर्दू शिक्षकों के रिक्त पद नियमानुसार अतिशीघ्र पूर्ति कराने हेतु निर्देशित किया गया। बैठक में अनुपस्थित विभागों को कारण बताओ नोटिस जारी करने के संबंध में अल्पसंख्यक मामलात विभाग को पाबन्द किया गया। समीक्षा के दौरान उपस्थित विभागों को अध्यक्ष द्वारा अग्रिम बैठक में विभागीय लाभान्वित अल्पसंख्यक समुदाय सम्बन्धित समस्त आंकड़े पूर्णतयाः पूर्ति कर उपस्थित होने हेतु निर्देशित किया। समीक्षा बैठक का संचालन विभागीय कार्यक्रम अधिकारी मोहम्मद सलीम शेख ने किया।

अनुभव प्रमाण पत्र में छूट का आग्रह

बैठक के अंत में जिला स्तरीय मनोनीत सदस्य श्री चैनवाला ने जिला कलक्टर को नगर निगम की सफाई कर्मचारी भर्ती में भिश्ती समुदाय के व्यक्तियों को अनुभव प्रमाण पत्र में छूट देने या समाज के अध्यक्ष द्वारा जारी अनुभव प्रमाण पत्र को मान्य करने का आग्रह किया।